Anupama 8th March 2024 Written Update: Anupama motivates Paritosh.

Join Whatsapp Group

Anupama 8th March 2024 Written Update: In today’s episode, Anupama shares with Pari and Kinjal that they were alone when the bad guys showed up. She questions why she should not suspect Paritosh. Vanraj asks Paritosh about the bad guys. Anupama mentions the bad guys threatened Paritosh at the event as well. Paritosh explains that the bad guys want their borrowed money back. Pari gives back Anupama’s money, making her feel relieved.

Paritosh asks Anupama if she now believes he is not a thief, showing anger towards her. Kinjal tells Leela and Vanraj that Paritosh is not doing anything with his life; he is just wasting time. Leela questions Kinjal about Paritosh not going out. Kinjal complains that Paritosh plays games and feels like she’s raising their child independently despite having a husband and working two jobs. Vanraj asks Paritosh if what Kinjal and Anupama said is true. Kinjal notes that their lives improved after Anupama returned, leaving Vanraj shocked.

Anupama 8th March 2024 Written Update

Hasmuk questions Pakhi about her whereabouts. Pakhi questions why Hasmuk doesn’t ask Dimple instead. Kavya tells Pakhi to speak respectfully to Hasmuk. Pakhi stumbles, falling with some papers. Kavya and Hasmuk help her, wondering if they will find evidence against Adhik in the papers. Pakhi leaves, leaving them puzzled. Paritosh talks to Vanraj about his unsuccessful career, trying to convince him he’s not bad, just unable to stand up for himself or protect his family. Everyone is shocked by his admission.

Dimple says Pakhi is gathering evidence against Adhik, which scared her. Kavya ponders what evidence Pakhi found. Dimple and Kavya worry that Ishani might suffer because of Pakhi’s actions. Dimple thinks Pakhi and Adhik’s relationship would have been better if Anupama had been there. Kavya agrees.

Paritosh feels sorry for his actions and promises Anupama he won’t do wrong again. Anupama encourages Paritosh to live honestly. Paritosh says sorry to Anupama. Anupama and Vanraj bless him, and Kinjal forgives him too. Paritosh thanks his family for their forgiveness. Anupama warns him she’ll be strict if he errs again. Paritosh promises to be good.

Anupama 8th March 2024 Written Update

Anupama prays for everything to be okay. Paritosh gets another threatening message. Anuj gets ready for an event and is looking for Anupama. Anupama sets up her stall. Anuj and Anupama feel awkward upon seeing each other. Anupama checks if Anuj is okay. Both hope the event goes well.

Anupama thinks back on past events. Yashdeep asks if she’s daydreaming, but she feels proud. Anuj awaits a call from Aadya before the event. Paritosh receives a threatening message again and decides to concentrate on his work. Anupama sees Vanraj, and Leela remembers past times. Yashdeep tells her not to worry. Anuj entrusts Paritosh to manage a jewellery event. Paritosh promises to do well.

Precap: Police check everyone at the event after some diamond jewellery goes missing.

Anupama 8th March 2024 Episode in Hindi

आज की कहानी में, अनुपमा परी और किंजल के साथ साझा करती है कि जब बुरे लोग आए तो वे अकेले थे। वह सवाल करती है कि उसे परितोष पर संदेह क्यों नहीं करना चाहिए। वनराज परितोश से बुरे लोगों के बारे में सवाल करता है। अनुपमा ने उल्लेख किया कि बुरे लोगों ने कार्यक्रम में भी परितोष को धमकी दी थी। परितोष बताते हैं कि बुरे लोग अपना उधार लिया हुआ पैसा वापस चाहते हैं। परी अनुपमा के पैसे वापस कर देती है, जिससे वह राहत महसूस करती है। परितोष अनुपमा से पूछता है कि क्या वह अब मानती है कि वह चोर नहीं है, उसके प्रति गुस्सा दिखाते हुए। किंजल लीला और वनराज को बताता है कि परितोष अपने जीवन के साथ कुछ नहीं कर रहा है, बस समय बर्बाद कर रहा है।

लीला किंजल से सवाल करती है कि परितोष बाहर नहीं जा रहा है। किंजल शिकायत करती है कि परितोष सिर्फ खेल खेलता है और उसे लगता है कि वह पति होने के बावजूद अपने बच्चे की परवरिश खुद कर रही है, और दो नौकरियां करती है। वनराज ने परितोष से पूछा कि क्या किंजल और अनुपमा ने जो कहा वह सच है। किंजल ने नोट किया कि अनुपमा के लौटने के बाद उनका जीवन थोड़ा बेहतर हो गया, जिससे वनराज हैरान रह गए।

हस्मुक पाखी से उसके ठिकाने के बारे में सवाल करता है। पाखी सवाल करती है कि हसमुक इसके बजाय डिंपल से क्यों नहीं पूछता है। काव्या पाखी को हस्मुक से सम्मानपूर्वक बात करने के लिए कहती है। पाखी लड़खड़ाती है, कुछ कागज़ों के साथ नीचे गिरती है। काव्या और हस्मुक उसकी मदद करते हैं, यह सोचकर कि क्या उन्हें अखबारों में आदिक के खिलाफ कोई सबूत मिलेगा। पाखी चली जाती है, जिससे वे उलझन में पड़ जाते हैं।

परितोष वनराज से अपने असफल करियर के बारे में बात करता है, उसे यह समझाने की कोशिश करता है कि वह बुरा नहीं है, बस अपने लिए खड़े होने या अपने परिवार की रक्षा करने में असमर्थ है। हर कोई उनके इस स्वीकारोक्ति से हैरान है। डिंपल का कहना है कि पाखी आदिक के खिलाफ सबूत इकट्ठा कर रही है, जिससे वह डर गई। काव्या सोचती है कि पाखी को क्या सबूत मिला। डिंपल और काव्या को चिंता है कि पाखी के कार्यों के कारण इशानी को नुकसान हो सकता है। डिंपल सोचती है कि अगर अनुपमा होती तो पाखी और आदिक का रिश्ता बेहतर होता। काव्या सहमत है।

परितोष को अपने कार्यों के लिए खेद होता है और वह अनुपमा से वादा करता है कि वह फिर से गलत नहीं करेगा। अनुपमा परितोष को ईमानदारी से जीने के लिए प्रोत्साहित करती है। परितोष अनुपमा से माफी मांगता है। अनुपमा और वनराज उसे आशीर्वाद देते हैं, और किंजल उसे भी माफ कर देता है। परितोष अपने परिवार को उनकी क्षमा के लिए धन्यवाद देता है। अनुपमा उसे चेतावनी देती है कि अगर वह फिर से गलती करता है तो वह सख्त होगी। परितोष अच्छा होने का वादा करता है।

अनुपमा सब कुछ ठीक होने की प्रार्थना करती है। परितोष को एक और धमकी भरा संदेश मिलता है। अनुज अनुपमा की तलाश में एक कार्यक्रम के लिए तैयार हो जाता है। अनुपमा अपना स्टाल लगाती है। अनुज और अनुपमा एक-दूसरे को देखकर असहज महसूस करते हैं। अनुपमा जाँच करती है कि अनुज ठीक है या नहीं। दोनों को उम्मीद है कि कार्यक्रम अच्छा चलेगा।

अनुपमा पिछली घटनाओं के बारे में सोचती है। यशदीप पूछता है कि क्या वह दिवास्वप्न देख रही है, लेकिन उसे गर्व महसूस होता है। अनुज कार्यक्रम से पहले आद्या के फोन का इंतजार करता है। परितोष को फिर से एक धमकी भरा संदेश मिलता है और वह अपने काम पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला करता है। अनुपमा वनराज और लीला को देखती है, अतीत को याद करती है। यशदीप उसे चिंता न करने के लिए कहता है। अनुज ने परितोष को एक आभूषण कार्यक्रम का प्रबंधन करने का काम सौंपा। परितोष अच्छा करने का वादा करता है।

सामने आ रहा हैः हीरे के कुछ गहने गायब होने के बाद पुलिस कार्यक्रम में सभी की जाँच करती है।

Hello, friends, my name is Arindam Das I am a blogger. I graduated from Calcutta University with B.com (H). I started blogging in 2014 I love blogging very much and now it's my profession. I live in West Bengal, Kolkata.

Leave a Comment